Breaking News
Home / Latest / हिन्दू धर्म एवं संस्कृति की रक्षा के लिए हुई है विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना -दीपक जी

हिन्दू धर्म एवं संस्कृति की रक्षा के लिए हुई है विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना -दीपक जी

मुंगराबादशाहपुर (जौनपुर)। विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना का मुख्य उद्देश्य विश्व के कोने कोने में रह रहे हिन्दुओ का एकत्रीकरण कर समूचे विश्व मे हिन्दू धर्म और संस्कृति की रक्षा करना है । उक्त बातें क्षेत्र के रखौली गाँव मे स्थित ललित पाण्डेय के आवास पर विश्व हिन्दू परिषद मुंगराबादशाहपुर प्रखण्ड द्वारा आयोजित स्थापना दिवस समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्य वक्ता के रूप में विश्व हिन्दू परिषद के विभाग सम्पर्क प्रमुख दीपक जी ने कही । उन्होंने कहा कि 29 अगस्त सन 1964 को मुम्बई के पवई में स्थित संदीपनी आश्रम में बाबा साहब आप्टे समेत अन्य महापुरुषो की अगुवाई में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दिन विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना की गयी थी । अपने स्थापना काल से ही विश्व हिन्दू परिषद ने विशाल हिन्दू जनमानस के एकत्रीकरण के साथ ही कई आन्दोलनो में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

समारोह को सम्बोधित करते हुए जिलामन्त्री विशम्भर जी ने कहा कि विश्व हिन्दू परिषद अपने स्थापना के एक मूल उद्देश्य में लम्बे संघर्षों के बाद सफलता प्राप्त किया है अभी मुख्य उद्देश्यों में और भी महत्वपूर्ण कार्य बाकी है । उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि कार्यकर्ता संगठन की मजबूती के लिए साप्ताहिक सत्संग की विस्तार से रूपरेखा तैयार करे और अधिक से अधिक प्रखण्डों और खंडों में सत्संग के कार्यक्रमो का आयोजन करें । समारोह में सह जिलामन्त्री अमित दुबे एवं पाण्डेय ने भी अपने विचार व्यक्त किया । समारोह का संचालन जिला मठ मन्दिर प्रमुख वेद प्रकाश जी ने किया । इस अवसर पर बालकृष्ण मिश्रा , प्रमोद सिंह , राजेश पाण्डेय , शैलेश सिंह , सुनील तिवारी , रोहित सिंह , ललित पाण्डेय सुनील सिंह , अखिलेश प्रताप सिंह , अनुज दुबे समेत दर्जनों लोग उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *