Breaking News
Home / Latest / जौनपुर। खाखोपुर गांव में राजनीति तेज, शनिवार को क्षत्रीय महासभा के आने को लेकर प्रशासन मुस्तैद,

जौनपुर। खाखोपुर गांव में राजनीति तेज, शनिवार को क्षत्रीय महासभा के आने को लेकर प्रशासन मुस्तैद,

जौनपुर(19जन.)। मछलीशहर कोतवाली क्षेत्र के खाखोपुर गांव में विभिन्न संगठनों की राजनीति तेज हो गयी है। शनिवार की दोपहर में क्षत्रिय महासभा के पदाधिकारियों की आने की एलान पर प्रशासन के हाथ पांव फूल रहा है। किसी अनहोनी को देखते हुए क्षत्रिय महासभा के आगमन पर शनिवार की सुबह से आधा दर्जन थानों की पुलिस और बीएसएफ के जवान को मौके पर तैनात कर दिया गया है। मड़ियाहूं कोतवाल संजीव मिश्रा भी खाखोपुर पहुंचकर मोर्चा संभाले हुए है।दोपहर में क्षत्रीय महासभा के संगठन के पदाधिकारी की आने की सूचना पर बाजारवासियों में भी दहशत का माहौल कायम है लेकिन प्रशासन के मुस्तैद रहने के कारण मौके की स्थिति शांतिपूर्ण बनी हुई है। तनावपूर्ण शांति के बीच प्रशासनिक उच्चाधिकारी बराबर चक्रमण कर रहे हैं।

बता दें कि मछलीशहर खाखोपुर गांव में बुधवार को शाम से शुरु हुये जातीय संघर्ष पर पुलिस प्रशासन की सक्रियता,सूझबूझ और सख्ती से घटना के तीसरे दिन स्थिति नियन्त्रण में है ।लेकिन दोनों पक्षों में तनाव अब भी बरकरार है।गांव में शुक्रवार को भी भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है ।कोतवाल अनिल सिंह सहित कई थानों की पुलिस रात भर चक्रमण भी करती रही ।पुलिस अधीक्षक पल पल घटना की जानकारी लेते रहे ।घटना के तीसरे दिन जहां ग्रामीण सहमें हैं वहीं बाजार में सन्नाटा छाया हुआहै ।
उक्त गांव में दो पक्षों में शीशम के पेड़ की जड़ खोदने,गोमटी रखने और क्रिकेट खेलने का विवाद काफी दिनों से चल ही रहा था कि बुद्धवार को अण्डा खाने को लेकर हुये विवाद से ठाकुर व हरिजन पक्ष आमने सामने आ गये । आरोप है कि ग्राम प्रधान श्याम बहादुर गौतम व दूसरे पक्ष के मुन्न्ना सिंह आमने सामने आ गये । दोनों पक्षों की तरफ से जमकर लाठी डंडे और पत्थरबाजी हुई ।वहीं ग्राम प्रधान पक्ष से भीम आर्मी ने गांव व बाजार में काफी तांडव मचाया ।जिसमें ग्रामीणों व बाजार वासियों की सम्पत्ति की भी क्षति हुई । वहीं दर्जनों लोग घायल भी हुए। ग्रामीणों की माने तो बगल स्थित पेट्रोल पम्प लूटने व आग लगाने तक का प्रयास किया गया ।हवाई फायरिंग व मौके पर भारी पुलिस बल पहुंचने पर स्थिति नियन्त्रण में हुई। कोतवाली पुलिस ने दोनों पक्षों के 25 लोंगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर 12लोंगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।इसी बीच ग्राम प्रधान संघ द्वारा कोतवाली का घेराव करने का असफल प्रयास किया गया । कोतवाल ने समझा बुझाकर लोंगों को शान्त कराया ।बीती रात भारी संख्या में पुलिस बल गांव में चक्रमण करती रही । सीओ विजय सिंह व कोतवाल अनिल कुमार सिंह ने ग्रामीणों को हिदायत दिया कि किसी बाहरी व्यक्ति व समूह को ग्राम में न घुसने दिया जाय। किसी प्रकार की अफवाह पर ध्यान नहीं जाय। स्थिति नियन्त्रण में बताई गई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.