Breaking News
Home / Latest / जौनपुर। आमरण स्थल से पुलिस द्वारा लापता किए जाने वाले अन्ना को गुरुवार की शाम एसडीएम कोर्ट में पेश किया, भेजे गए जेल

जौनपुर। आमरण स्थल से पुलिस द्वारा लापता किए जाने वाले अन्ना को गुरुवार की शाम एसडीएम कोर्ट में पेश किया, भेजे गए जेल

जौनपुर (31जन.)। बरसठी स्टेशन पर बुधवार को आमरण अनशन कर रहे समाजसेवी जज सिंह अन्ना को पुलिस ने गुरुवार को नाटकीय ढंग से व गुप्त रूप से देर रात मडियाहूं तहसील लाकर शांति भंग करने के जुर्म में एसडीएम कोर्ट में पेश किया। जमानतदार नहीं होने के कारण एसडीएम ने आरोपी को जेल भेज दिया। पुलिस के इस कार्रवाई की क्षेत्र की जनता निंदा कर रही है।
दो दिनों से आमरण अनशन स्थल से गायब समाजसेवी जज सिंह अन्ना को गुरुवार की देर शाम बरसठी पुलिस ने नाटकीय ढंग से एसडीएम मड़ियाहूं कोर्ट में पेश किया। बाद में एसडीएम ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। जिसका क्षेत्र में पता चलते ही चारों तरफ इस कृत्य की निंदा हो रही है।
बता दे कि स्टेशन पर रेलवे की सुविधाओं को लेकर 28 जनवरी से 30 जनवरी तक बिना भोजन पानी के समाजसेवी जज सिंह अन्ना आमरण अनशन पर बैठे थे। बुधवार को आमरण अनशन को बल देते हुए क्षेत्र की सैकडो महिलाओं ने भी साथ दिया और इण्टरसीटी ट्रेन को तीन घंटे तक रोके रखा। मौके पर पहुंचे एडीआरएम रवि पी चतुर्वेदी वाराणसी रेलवे, कमाण्डेन्ट वीकेसिंह की मौजूदगी में आरपीएफ के जवानो ने समाजसेवी अन्ना को अनशन स्थल से जबरदस्ती जिला अस्पताल का हवाला देते उठा ले गयी थी, और उन्हें तभी से किसी अज्ञात स्थान पर रखी थी। गुरुवार को बरसठी पुलिस ने गुप्त तरीके से देर शाम जिला अस्पताल से मडियाहूं लाकर उपजिलाधिकारी कार्यालय मे पेश किया। जिसे एसडीएम ने जमानतदार नहीं होने न के चलते न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। उपजिलाधिकारी मड़ियाहूं मोती लाल ने बताया की जमानतदार न होने के कारण जेल भेजना पडा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!