Breaking News
Home / Latest / जौनपुर। मुंगराबादशाहपुर में मध्यान्ह भोजन योजना में गेहूं, चावल समेत लाखों का कन्वर्जन मनी गए डकार

जौनपुर। मुंगराबादशाहपुर में मध्यान्ह भोजन योजना में गेहूं, चावल समेत लाखों का कन्वर्जन मनी गए डकार

जौनपुर(01फर.) मुंगराबादशाहपुर विकास खण्ड के जखनियां गांव में मध्यान्ह भोजन योजना में प्रधान जी बच्चों का लाखों रुपए का निवाला डकार गए। विद्यालय के 68.61कुंतल गेहूं , 46.51 कुंतल चावल के साथ एक लाख 83 हजार 604 रुपए कन्वर्जन मनी की राशि का घोटाला कर डाला। इसका खुलासा आईजीआरएस पर की गई शिकायत की जांच के बाद सामने आया तो गांव में हड़कंप मच गया है ।
जखनियां में मध्यान्ह भोजन योजना के तहत आने वाले बच्चों के निवाले का राशन 68 कुन्तल 61 किलो गेहूं तथा 46 कुन्तल 51 किलो चावल के साथ ही आने वाली कन्वर्जन मनी की 1 लाख 83 हजार से अधिक की राशि प्रधान जी ही डकार गए हैं । मुंगराबादशाहपुर विकास खण्ड के ग्राम जखनियां निवासी चन्द्र मणि तिवारी पुत्र खुश दिल तिवारी ने आईजीआरएस पर शिकायत संख्या 40019417015340 दिनांक 16 फरवरी 2018 को दर्ज कराई थी कि ग्राम पंचायत जखनियां में स्थित बिद्यालय में पंजीकृत छात्र छात्राओं के लिए मध्यान्ह भोजन योजना के तहत आने वाले खाद्यान्न एवं कन्वर्जन मनी की राशि में ब्यापक पैमाने पर धांधली की गई है। जिसकी जांच की खण्ड विकास अधिकारी ने अवर अभियंता लघु सिंचाई राजेश कुमार सिंह को सौंपी । अपनी जांच रिपोर्ट में जांच अधिकारी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि सत्र 2004 से 2011 तक तत्कालीन ग्राम प्रधान अशोक कुमार तिवारी पर मध्यान्ह भोजन योजना का 27 कुंतल 55 किलो गेहूं , 41कुन्तल 06 किलो चावल के साथ ही 1लाख 48 हजार 669 रूपए कन्वर्जन मनी की राशि तथा सत्र 2011 से 2015 तक ग्राम प्रधान रही श्री मती शकुंतला देवी पर मध्यान्ह भोजन योजना का 33 कुन्तल 01 किलो गेहूं ,13 कुन्तल 50 किलो चावल के साथ ही कन्वर्जन मनी की 34 हजार 935 रूपए की देयता अवशेष हैं । इस प्रकार देखा जाए तो दोनों ग्राम प्रधानों ने अपने अपने कार्यकाल में बच्चों के लिए आने वाले खाद्यान्न लगभग 68 कुंतल 61 किलो गेहूं, 46 कुंतल 51 किलो चावल के साथ ही एक लाख 83 हजार 604 रूपए कन्वर्जन मनी की राशि बच्चों की बजाय प्रधान जी ही डकार गए । उक्त जांच की रिपोर्ट को खण्ड बिकास अधिकारी जयेश कुमार सिंह ने अपने पत्रांक संख्या 929 / जांच आख्या/ 2017-18 दिनांक 28 फरवरी 2018 के तहत मुख्य बिकास अधिकारी को भेजते हुए कहा है कि दोनों लोगों को एक सप्ताह के भीतर देयता अवशेष राशि निर्धारित मद में जमा करने का निर्देश दिया गया है। अन्यथा की स्थिति में नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही किए जाने के लिए कहा गया है। स्थिति तो तब डांवाडोल हो गई जब देयता अवशेष राशि जमा नहीं करने पर शिकायत कर्ता चंद्रमणि तिवारी ने आईजीआरएस पर दुबारा शिकायत संख्या 20019418022349 पर शिकायत किया कि पूर्व ग्राम प्रधानों द्वारा अवशेष देयता राशि जमा नहीं किया जा रहा है। जिसकी जांच में जिला पंचायत राजअधिकारी ने शिकायत कर्ता चंद्रमणि तिवारी को ही पत्र भेजकर शपथ पत्र के साथ साक्ष्य के अभाव में जांच कराने से इंकार करते हुए शिकायत को ही खारिज कर दिया। अब उन्हें कौन समझाए कि उन्हीं के मातहत अधिकारी खण्ड बिकास अधिकारी मुंगराबादशाहपुर ने ही अपनी जांच रिपोर्ट में तत्कालीन ग्राम प्रधान अशोक कुमार तिवारी एवं श्री मती शकुंतला देवी को मध्यान्ह भोजन योजना में धांधली करने का दोषी देते हुए अवशेष राशि जमा करने का निर्देश दिया है । इस बाबत पूछे जाने पर खण्ड बिकास अधिकारी जयेश कुमार सिंह ने बताया कि मध्यान्ह भोजन योजना में घोटाला करने वाले सम्बन्धित ग्राम प्रधानों के विरूद्ध कार्यवाही करने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को पत्र भेजा जा चुका है । जिस पर क्या कार्रवाई की गई मेरे संज्ञान में नहीं है । फिलहाल यह तो महज एक गांव का मामला है ।इसी तरह अन्य गांवों में भी बच्चों के निवाले के साथ घोटाला किया गया होगा । जिसका खुलासा जांच के बाद ही सामने आयेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.