Breaking News
Home / Latest / जौनपुर। जिले के सवंसा गांव की जांच में कागज पर कुछ और सामने कुछ और था लेकिन जमीन पर कोई काम नही

जौनपुर। जिले के सवंसा गांव की जांच में कागज पर कुछ और सामने कुछ और था लेकिन जमीन पर कोई काम नही

जौनपुर(23फर.)। महराजगंज क्षेत्र के सवंसा ग्राम पंचायत में उच्च न्यायालय के आदेश पर शुक्रवार को जांच करने पहुचे जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने जांच करने पहुंचे तो जमीनी हकीकत सामने दिखाई दे गयी। जांच में कागज पर कुछ और सामने कुछ और था लेकिन जमीन पर कोई काम नही दिखाई पड़ा ।


जानकारी के अनुसार अजय कुमार ने जिलाधिकारी को प्रेषित शिकायती पत्र में महराजगंज के सवंसा ग्राम पंचायत में नाली खड़ंजा आवास एवं शौचालय के निर्माण में भारी धांधली की शिकायत किया था। लेकिन जांच नहीं होने पर माननीय उच्च न्यायालय की शरण में गया तो न्यायालय ने जिला अधिकारी को जांच का आदेश दिया। ऐसे में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी अबू मोहम्मद के नेतृत्व में जांच करने पहुंची टीम तो ब्लाक से कोई भी कर्मचारी उपस्थित नहीं था। ब्लाक द्वारा किसी प्रकार का अभिलेख ही उपलब्ध नहीं कराया गया । शिकायतकर्ता द्वारा उपलब्ध कराये गये कार्यों के आधार पर जांच टीम ने कुछ बिंदुओं पर जांच किया तो जिनमें गांव में नाली निर्माण पर लगभग 9 लाख रुपये खर्च किया गया है लेकिन गांव में एक भी बंद नाली नहीं बनी ।हैंडपंप रिबोर में मौके पर एक भी रिबोर नहीं पाया गया खड़ंजा निर्माण कार्य में लगभग 20 लाख खर्च किये गये है। जबकि उक्त स्थान पर खड़ंजा का निर्माण ही नहीं हुआ है। पाइप पर लगभग डेढ़ लाख खर्च किए गये हैं लेकिन मौके पर पाइप दिखाई नहीं पड़ी गांव के कल्लू एवं हरीनाथ को 2016 ,2017 में निर्बल वर्ग आवास मिला था लेकिन अभी तक आवास अधूरा पड़ा है। जांच अधिकारी ने अधूरे कार्य को पूरा कराने का निर्देश दिया। और कार्य में लीपा पोती धन का बन्दर बाट होने पर ग्राम विकास अधिकारी आलोक मिश्र व ग्राम प्रधान रेनू सरोज व जेई आरएस धर्मराज यादव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने की चेतावनी दिया ।
वही ग्रामीणों ने कहा कि बीडीओ की लापरवाही के कारण अभिलेख न उपलब्ध कराने पर जांच आधी अधूरी ही रह गयी । शिकायतकर्ता अजय कुमार द्वारा उपलब्ध कराये गये शिकायती पत्र के आधार पर कुछ बिंदुओं की ही जांच हो पायी।
खण्ड विकास अधिकारी सतीश चंद पाण्डेय ने बताया कि ग्राम विकास अधिकारियों के स्थानांतरण के कारण अभिलेख उपलब्ध नहीं कराया जा सका । दो दिनों के अंदर कागजात उपलब्ध करा दिये जायेंगे ।
ग्राम प्रधान रेनू देवी के देवर प्रधान प्रतिनिधि ने कहा लोग फर्जी आरोप लगा रहे है ।
मौके पर शिकायत कर्ता रमापति,बृजेश सिंह,राकेश सिंह,अजय गौतम,समारू विश्वकर्मा सहित ग्रामीण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!